Follow by Email

Advertisment

May 18, 2017

इंटर की स्टूडेंट को आया फोन, कहा- छह हजार रुपए दो, फर्स्ट डिविजन मार्क्स लो

इंटर की स्टूडेंट को आया फोन, कहा- छह हजार रुपए दो, फर्स्ट डिविजन मार्क्स लो

औरंगाबाद.शहर की इंटरमीडिएट की स्टूडेंट श्वेता कुमारी को मंगलवार की सुबह फोन कॉल आई। कॉल करने वाले शख्स ने खुद को बोर्ड का डाटा ऑपरेटर बताया। उसने कहा कि फिजिक्स में तुम फेल हो रही हो। 17 नंबर ही रहे हैं। पास होना है तो छह हजार दे दो। फर्स्ट डिविजन पास करा देंगे। शहर के नावाडीह मुहल्ला निवासी छात्रा ने कहा नंबर कहां से मिला और कैसे आप पर विश्वास करूं। मोबाइल नंबर 7759936113 से कॉल आया था।
कॉल करने वाले ने खुद का नाम सुमन कुमार बताया। उसने अपने आप को बोर्ड का डाटा इंट्री ऑपरेटर बताया। इसके बाद छात्रा ने मोबाइल नंबर कहां से मिलने की बात पूछी। फिर उक्त शख्स ने इसके जवाब में जो खुलासा किया, वह बेहद संगीन चौंकाने वाला है। उसने कहा कि रजिस्ट्रेशन फॉर्म से नंबर हासिल किया। फिर फोन किया। हालांकि दैनिक भास्कर फोन करने वाले शख्स को बोर्ड का आदमी होने का दावा नहीं करता।

रजिस्ट्रेशन में दी जाने वाली जानकारी होती है गुप्त: डीईओ
जिला शिक्षा पदाधिकारी यदुवंश राम ने बताया कि रजिस्ट्रेशन की जानकारी बिल्कुल गुप्त होती है। उसको लीक नहीं किया जा सकता। यदि ऐसा हुआ है तो संगीन मामला है। विभाग के नाम पर गिरोह छात्रा को ठगने की कोशिश कर रहा हो।

इंटरमीडिएट की छात्रा श्वेता कुमारी शहर के सच्चिदानंद सिन्हा कॉलेज की छात्रा है। साइंस से वह परीक्षा दी है। रजिस्ट्रेशन में छात्रा जो नंबर दी थी, उसी नंबर पर कॉल आई। जिससे छात्रा के साथ पूरा परिवार परेशान है। छात्रा के परिवारवालों ने इसकी सूचना दैनिक भास्कर को दी। इसके बाद दैनिक भास्कर संवाददाता ने उस नंबर पर कॉल किया। बातचीत के क्रम में यह पता करने की कोशिश की गई कि वह शख्स कौन है। क्या सच में पैसा लेकर नंबर बढ़ाया जा रहा है या फिर बोर्ड के नाम पर कोई गैंग सक्रिय है। बातचीत में कॉल करने वाले शख्स ने मिलने से साफ मना कर दिया। लेकिन, पैसा जमा करने के लिए बैंक अकाउंट नंबर एसएमएस देने पर राजी हो गया। खुद को डाटा इंट्री ऑपरेटर बताया।




Sarkari Niyukti


No comments:

Post a Comment